इंटरनेट डेस्क। 27 जुलाई को हुए सदी के सबसे लंबे चंद्र ग्रहण के बाद 11 अगस्त को साल का आखिरी सूर्य ग्रहण होगा जो कि एक प्रमुख ज्योतिषीय घटना है। इस से पहले 15 फरवरी और 13 जुलाई को सूर्य ग्रहण हो चुके है। हालाँकि यह ग्रहण भारत में नजर नहीं आएगा लेकिन दुनिया के अन्य हिस्सों जैसे उत्तरी अमेरिका, उत्तर पश्चिम एशिया, साउथ कोरिया, मॉस्को, चीन में यह ग्रहण देखा जा सकेगा।

ग्रहण का दिन - शनिवार 11 अगस्त को होने वाला यह सूर्य ग्रहण एक आंशिक ग्रहण होगा और यह भारत में नहीं देखा जा सकेगा।

ग्रहण का समय - ग्रहण 11 अगस्त को दोपहर 1 बजकर 32 मिनट पर शुरू होगा और दोपहर 3 बजकर 16 मिनट ग्रहण का मध्य समय होगा। यह सूर्य ग्रहण शाम 5 बजकर 40 मिनट पर समाप्त होगा। हालाँकि ज्योतिष के अनुसार ग्रहण के सूतक का समय ग्रहण से 12 घंटे पहले शुरू होता है लेकिन इस ग्रहण के भारत में नजर नहीं आने के कारण इसका प्रभाव नहीं होगा।

2018 की तरह ही अगली साल भी तीन सूर्य ग्रहण होंगे जिसमें पहला ग्रहण 6 जनवरी को, दूसरा 2 जुलाई को और तीसरा 26 अगस्त को होगा। इसके अलावा दिसम्बर के महीने में एक चंद्र ग्रहण भी होगा।

loading...

Related News