एमओ मथाई की किताब रिमिनिसेंसेज ऑफ द नेहरू एज के मुताबिक, जब इंदिरा गांधी 16 साल की होने वाली थीं, उस से एक दिन पहले फिरोज गांधी ने इंदिरा गांधी के लिए विवाह का प्रस्ताव रखा और शादी करने की इच्छा जताई।

फिरोज की यह बात सुनकर इंदिरा अवाक रह गईं। वे उनकी इस बात से नाराज हुई और इसकी शिकायत अपनी मां कमला नेहरू से भी कर दी। उनकी माँ ने शादी से साफ़ इनकार कर दिया और कहा कि ये शादी कभी नहीं हो सकती है। लेकिन इसके बावजूद फिरोज गांधी आनंद भवन में आते रहे।

उसके बाद इंदिरा के घर वालों ने उन्हें पढ़ने के लिए लंदन भेज दिया। उनका प्यार पाने के लिए फिरोज गांधी ने जानबूझकर लंदन स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स में दाखिला ले लिया और उनकी कोशिशों के बाद वे इंदिरा गांधी का प्यार पाने में सफल हुए।

जर्नलिस्ट निखिल चक्रवर्ती के अनुसार, फिरोज खूबसूरत महिलाओं को देखकर जल्दी अट्रैक्ट हो जाते थे। इतना ही नहीं लंदन में भी फिरोज गांधी के कई अफेयर भी थे लेकिन इंदिरा इस बात से अनजान थी।

पुस्तक इंदिराः द लाइफ ऑफ इंदिरा नेहरू गांधी में कैथरीन फ्रेंक ने लिखा है इंदिरा और फिरोज ने पहले ही शादी कर ली थी और शादी करने से पहले ही वे एक दूसरे के साथ रहते थे। इंदिरा गांधी ने अपने पं. जवाहर लाल नेहरू से यह बताया कि वह फिरोज गांधी से प्यार करती हैं तो इस बात को सुनकर नेहरू काफी नाराज हुए और वे नहीं चाहते थे कि ये शादी हो, बावजूद इसके उन दोनों की शादी हो गई।

शादी के बाद फिरोज गांधी और इंदिरा के बीच अनबन शुरू हो गई। उस समय इंदिरा प्रेग्नेंट थी और राजीव गांधी उनके गर्भ में थे। तब इंदिरा को राजीव के एक अफेयर के बारे में पता चला। इसे सुन कर इंदिरा को काफी दुःख पहुंचा। फिरोज के एक नहीं कई महिलाओं के साथ अफेयर की खबरें इंदिरा के कानों तक पहुंचती रहीं। पति की इस तरह की बेवफाई देख कर इंदिरा ने उनसे दूरियां बनाना शुरू कर दिया।

कैथरीन फ्रेंक लिखते हैं कि फिरोज के खाने-पीने और सेक्स की कोई सीमा नहीं थी। इंदिरा से शादी करने के बावजूद उनके कई अन्य महिलाओं के साथ अवैध संबंध थे। संसद की ग्लैमर गर्ल तारकेश्वरी सिन्हा, महमूना सुल्तान के अलावा सांसद सुभद्रा जोशी के साथ फिरोज गांधी के रोमांटिक रिश्ते रहे।

loading...

Related News