इंटरनेट डेस्क। भारतीय सेना देश की आज सबसे बड़ी ताकत हैं। भारतीय सेना देश की रक्षा के लिए कड़ी धूप, बर्फीले पहाड़ और बारिश में सीमा पर तैनात रहती है। जवानों को हर वक्त चुस्त और फुर्तीला रहने के लिए संतुलित भोजन की आवश्यकता होती हैं। दूध एक ऐसा पेय आहार हैं जो सेना के जवानों के साथ साथ आम इंसान के लिए भी बेहद जरुरी तत्व हैं। हमारी भारतीय सेना के पास फ्रिसवाल नस्लक की करीब 25,000 गायें हैं।

एक खबर के अनुसारm भारतीय सेना अपने 39 फार्म को बंद करने जा रही हैं। आर्मी ने फ़ार्म को बंद करने का फैसला पिछले साल लिया था। आपकी जानकारी के लिए बता दे देश में मिलिट्री फार्म साल 1889 में स्थाफपित की गई थी, जिनमें से जवानों को ताजा दूध व डेयरी प्रोडक्ट उपलब्ध कराया जाता हैं। ध्यान दे, फ्रिसवाल गाय लगभग 3600 लीटर दूध देती है। कई फ्रिसवाल गायें 7,000 लीटर तक भी दूध देती हैं।

भारतीय सेना ने करीब 1 लाख की कीमत वाली इन गाय को महज 1000 रुपए में बेचने का फैसला किया है। बता दे फिलहाल लगभग 57,000 जवान इन गायों की सेवा में लगे हुए हैं।

सेना ने फैसला लिया है कि उम्दाग नस्ल की इन गायों को स्टेगड डेयरी कोऑपरेटिव्स व अन्यं सरकारी विभागों को महज 1000 रुपए प्रति गाय की कीमत पर दिया जाएगा। बता दे फ्रिसवाल गाय नीदरलैंड की टॉप नस्लय की गाय और भारतीय साहिवाल के क्रॉस से तैयार हुई है।

loading...

Related News