महाराष्ट्र में कांग्रेस-एनसीपी और शिवसेना की गठबंधन में सरकार की गठन हो गई है. शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे गुरुवार को मुख्यमंत्री पद की शपथ ले ली है, अब इसके बाद मंत्री और अन्य पदों का भी निर्णय लिया जाएगा, इस बीच, सूत्रों के हवाले से खबर है कि कांग्रेस ने बड़ी मांग रख दी है, बताया जा रहा है कि कांग्रेस ने डिप्टी सीएम का पद लेने से इनकार कर दिया है।

loading...

डिप्टी सीएम के पद की जगह कांग्रेस स्पीकर के पद की मांग कर रही है। लगातार खबर आ रही है कि कांग्रेस ने अभी तक उपमुख्यमंत्री पद को लेकर कोई निर्णय नहीं लिया है, हालाँकि इस पद को लेकर कांग्रेस के कुछ नेताओं के नाम सामने आए थे, लेकिन इसका कोई स्पष्टीकरण नहीं आया।

अजीत पवार ने कहा है कि वह शुरु से ही राष्ट्रवादी थे, हैं और रहेंगे। मुझे किसी ने पार्टी से नहीं निकाला। साथ ही उन्होंने एक बार फिर यह स्पष्ट किया कि वह राष्ट्रवादी ही रहेंगे और पार्टी उन्हें जो भूमिका देगी उसे निभाएंगे।

Related News